अकेले 1% लोगों के पास ही है देश की 22% इनकम, भारत सर्वाधिक असमानता वाले देशों में शामिल

नई दिल्ली: भारत एक गरीब और काफी असमानता वाले देशों की सूची में शामिल हो गया है, जहां वर्ष 2021 में एक फीसदी आबादी के पास राष्ट्रीय आय का 22 फीसदी हिस्सा है जबकि निचले तबके के पास 13 फीसदी है. एक रिपोर्ट में यह कहा गया है. ‘विश्व असमानता रिपोर्ट 2022′ शीर्षक वाली रिपोर्ट के लेखक लुकास चांसल हैं जोकि ‘वर्ल्ड इनइक्यूलैटी लैब’ के सह-निदेशक हैं. इस रिपोर्ट को तैयार करने में फ्रांस के अर्थशास्त्री थॉमस पिकेट्टी समेत कई विशेषज्ञों ने सहयोग दिया है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत अब दुनिया के सर्वाधिक असमानता वाले देशों की सूची में शामिल हो गया है. रिपोर्ट में कहा गया कि भारत की वयस्क आबादी की औसत राष्ट्रीय आय 2,04,200 रुपये है जबकि निचले तबके की आबादी (50 प्रतिशत) की आय 53,610 रुपये है और शीर्ष 10 फीसदी आबादी की आय इससे करीब 20 गुना (11,66,520 रुपये) अधिक है.

रिपोर्ट के मुताबिक, भारत की शीर्ष 10 फीसदी आबादी के पास कुल राष्ट्रीय आय का 57 फीसदी, जबकि एक फीसदी आबादी के पास 22 फीसदी है. वहीं, नीचे से 50 फीसदी आबादी की इसमें हिससेदारी मात्र 13 फीसदी है. इसके मुताबिक, भारत में औसत घरेलू संपत्ति 9,83,010 रुपये है. इसमें कहा गया है, ‘भारत एक गरीब और काफी असमानता वाला देश है जहां कुलीन वर्ग के लोग भरे पड़े हैं.’
रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारत में लैंगिक असमानता बहुत अधिक है. इसमें कहा गया है कि महिला श्रमिक की आय की हिस्सेदारी 18 प्रतिशत है. यह एशिया के औसत (21 प्रतिशत, चीन को छोड़कर) से कम है.

12 thoughts on “अकेले 1% लोगों के पास ही है देश की 22% इनकम, भारत सर्वाधिक असमानता वाले देशों में शामिल

  1. Vous pouvez utiliser un logiciel de gestion des parents pour guider et surveiller le comportement des enfants sur Internet. Avec l’aide des 10 logiciels de gestion parentale les plus intelligents suivants, vous pouvez suivre l’historique des appels de votre enfant, l’historique de navigation, l’accès au contenu dangereux, les applications qu’il installe, etc.

  2. Wow, amazing weblog layout! How long have you ever been running a
    blog for? you make running a blog glance easy. The entire glance of your web site
    is excellent, let alone the content material! You can see similar here sklep online

  3. At this time it looks like Movable Type is the top blogging platform
    out there right now. (from what I’ve read) Is that what you
    are using on your blog? I saw similar here: E-commerce

  4. Wow, superb weblog structure! How long have you been blogging for?
    you made blogging look easy. The entire look of your web site is excellent, let alone the content!
    You can see similar here najlepszy sklep

  5. Hello! Do you know if they make any plugins to help
    with Search Engine Optimization? I’m trying to get my blog to
    rank for some targeted keywords but I’m not seeing very good gains.
    If you know of any please share. Thank you! You can read similar article
    here: E-commerce

  6. Hey there! Do you know if they make any plugins to assist with SEO?
    I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords but I’m not seeing very good success.
    If you know of any please share. Appreciate it!
    You can read similar text here: Sklep

  7. Good day! Do you know if they make any plugins to help
    with SEO? I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords but I’m not seeing very good gains.
    If you know of any please share. Thank you! You can read similar
    blog here: Sklep online

  8. Hello there! Do you know if they make any plugins to assist with SEO?
    I’m trying to get my site to rank for some targeted keywords but I’m not seeing
    very good success. If you know of any please share.
    Cheers! I saw similar art here: Scrapebox AA List

  9. Hey! Do you know if they make any plugins to help with SEO?
    I’m trying to get my site to rank for some targeted keywords
    but I’m not seeing very good success. If you know of
    any please share. Many thanks! You can read similar text here: Scrapebox List

  10. Wow, wonderful blog format! How lengthy have you ever been running a blog for?

    you make running a blog glance easy. The whole look
    of your site is great, as well as the content! You can see similar
    here e-commerce

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *